1925 - 1954
इस्पात की महारत
कौन कल्पना कर सकता है कि कठोर इस्पात की हमारी पहली महारत थी जिसने फ्रांसीसी सिगरेट आदि की दुकान के प्रदर्शन पर "फिक्स्ड पाइप" का कार्य किया ? सन् 1925 में, कंपनी ने एक बार फिर इस रूपांतर का प्रदर्शन किया और मोटर वाहन उद्योग के लिए कठोर इस्पात की पहली क्लिप का शुभारंभ हुआ जिसके यांत्रिक गुण (स्प्रिंग प्रभाव) निर्माताओं की चिंता को दूर किया: ढांचा के हिस्सों की तेजी से असेंबली की सुविधा के साथ।

1935

ढांचा के लिए क्लिप

आविष्कारक : Achille Raymond

कार के संरचना के लिए ए रेमंड ™का पहला पेटेंट। 1935 और 1960 के बीच, सजावटी स्ट्रिप्स फिक्सिंग के लिए कठोर इस्पात के लाखों इकाइयों का निर्माण किया गया (यूरोप, अमरीका)।

1935

अलग किया जा सकने लायक जिपर

आविष्कारक : Achille Raymond

प्रणाली में सुधार करने के लिए जो एक परिधान को पूरा खोलने की अनुमति देता है, दो बैंड को निकाल  कर  कर्सर क्लिप को रिलीज  करने के बाद। विटेक्श फास्टनर  एकल्इर फास्टनर का प्रतिस्पर्धी हो जाएगा

1953

सीलिंग डिवाइस की एक टूथपेस्ट ट्यूब

आविष्कारक : A.Raymond SCS Company (France, Grenoble)

शटर बंद ट्यूब सील में सुधार। आज, कई ट्यूबों (खाद्य, रसायन, सौंदर्य प्रसाधन ..) में इस आविष्कार से उत्पन्न एक प्रक्रिया शामिल है।

1954

दरवाजा के पैनल का क्लिप

आविष्कारक : Otto Kutler

कठोर इस्पात का अलग हो जाने वाला कसनी, प्रेस पर एक कटिंग और करविंग द्वारा विनिर्मित,  प्रति वाहन 80 टुकड़े की दर से। जर्मन निर्माताओं के समक्ष प्रस्तुत किया गया, यह 25 वर्षों तक निर्मित किया गया था।

1955 - 1975
प्लास्टिक की क्रांति
60-70के दशको से, प्लास्टिक को भविष्य का महान सामग्री माना जाता रहा। वाहन निर्माता कंपनियां इसका उपयोग जंग, कंपन, वजन और जलरोधन की समस्याओं का हल करने के लिए करने लगे। निर्माता और डिजाइनरों ने इसे प्रचलन में लाया । एरेमंड नेटवर्क के आविष्कारक यहाँ से प्रेरित हुए।